NCERT Solutions for Class 6 Hindi Chapter 6 - Paar Najar Ke

Chapter 6 - Paar Najar Ke Exercise प्रश्न-अभ्यास

Solution 1

छोटू का परिवार मंगल ग्रह पर बने भूमिगत घरों में रहता था। 

Solution 2

छोटू या किसी आम आदमी को सुरंग में जाने की इजाजत नहीं थी क्योंकि उस सुरंग से जमीन पर जाने का रास्ता था, आम आदमी को इस रास्ते से जाने की मनाही थी। 

Solution 3

कंट्रोल रूम में जाकर छोटू ने देखा सबलोग मंगल पर उतरे यान से परेशान थे। सब लोग स्क्रीन पर दिखाई दे रही अंतरिक्ष यान की इस हरकत को ध्यान से देख रहे थे तब छोटू का सारा ध्यान था कॉन्सोल पैनेल पर था। एक लाल बटन उसे आकर्षित कर रहा था। अपनी इच्छा को वह रोक नहीं पाया और उसने बटन दबा दिया। 

Solution 4

मंगल ग्रह पर कभी आम जन-जीवन हुआ करता था लेकिन धीरे-धीरे वातावरण में परिवर्तन आने लगा। सूरज में परिवर्तन होते ही वहाँ का प्राकृतिक संतुलन बिगड़ गया। प्रकृति के बदले हुए रूप का सामना करने में वहाँ के पशु-पक्षी, पेड़-पौधे अन्य जीव अक्षम साबित हुए। एक के बाद एक सब मरने लगे। 

Solution 5

मंगल की मिट्टी के विभिन नमूने इकट्ठे करने के लिए कहानी में अंतरिक्ष यान को नेशनल एअरोनाटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (नासा) ने भेजा था, क्योंकि पृथ्वी के वैज्ञानिक मंगल इस बात का पता करना चाहते थे कि क्या मंगल ग्रह पर भी पृथ्वी की ही तरह जीव सृष्टि का अस्तित्व है। 

Chapter 6 - Paar Najar Ke Exercise भाषा की बात

Solution 1

1. घड़ी का घंटा बजते ही मैं रोने लगा। 

    जैसे ही घड़ी घण्टा बजाने लगी, वैसे ही मैं रोने लगा। 

2. तापमान 100 डिग्री पर पहुँचते ही पानी उबलने लगता है। 

    जैसे ही तापमान 100 डिग्री पर पहुँचता है, पानी उबलने लगता है। 

3. उसके उतरते ही बस चल पड़ी। 

    जैसे ही वह उतरा, बस चल पड़ी। 

Solution 2

1. नज़र पड़ना - मीना की नज़र रीना के गले में चमकते सोने के हार पर पड़ी।  

2. नज़र रखना - रमा अपने बच्चों की पढ़ाई पर बराबर नज़र रखती है। 

3. नज़र आना - अमर की पढ़ाई के प्रति लापरवाई अब सब की नज़र में आ गई है।  

4. नज़रें नीची होना - बच्चे की खराब आदतों वजह से उसके परिवार की नज़रें नीची हो गई।

Solution 3

 

 

संज्ञा 

विशेषण 

आकर्षक आकर्षण  

आकर्षक 

आकर्षण 

प्रभाव प्रभावशाली 

प्रभाव 

प्रभावशाली 

प्रेरणा प्रेरक

प्रेरणा 

प्रेरक 

 

Solution 4

 

 फ़ 

 ज़ 

तरफ़  

 रोज़ 

स्टाफ़ 

 नज़र 

सिर्फ़  

इंतज़ार  

साफ़  

ज़मीन  

फ़ल  

ज़ोर 

फ़ोन 

साज़  

कफ़ 

ज़बान